Home State News धर्मयात्रा महासंघ ने अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले की निंदा की

धर्मयात्रा महासंघ ने अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले की निंदा की

183
0
SHARE

 

नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर के अनन्तनाग क्षेत्र में सोमवार रात्रि 10 जुलाई को पाक परस्त आतंकवादियों द्वारा अमरनाथ दर्शन कर लौट रहे तीर्थयात्रियों पर किए गये पूर्व सुनियोजित हमले की धर्मयात्रा महासंघ ने निंदा करते हुए कहा है, कि वर्तमान सरकार सभी वर्गों के विकास हेतु कार्य कर रही है. इसी लक्ष्यार्थ ‘सबका साथ सबका विकास’ लक्ष्य रखा है. इस अवधारणा के साथ भी यदि चन्द मुट्ठीभर लोग अपने आतंकी इरादों से नरसंहार करते हैं तो देश के कानून को और कठोर बनाकर गोली से गोली के नियम से निपटा जाए। महासंघ ने कहा कि तीर्थयात्री प्राय: शांति प्रिय समाज है और राष्ट्र की सामाजिक एकता का प्रतीक है. यह सरकार से पूर्ण सुरक्षा की अपेक्षा करता है। अपने देश में भी यदि तीर्थयात्रियों को सुरक्षा नहीं मिलती तो वह इसकी अपेक्षा कहां पर करेगा?
धर्मयात्रा महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मांगेराम गर्ग ने गुजरात धर्मयात्रा महासंघ के अध्यक्ष से निवेदन किया है कि अपने राज्य में पीड़ित परिवारों की सहायतार्थ पूरी टीम के साथ आगे आयें. इसके साथ ही जम्मू कश्मीर व केन्द्र सरकार से निवेदन किया है, कि घायलों के पूर्ण इलाज की समुचित व्यवस्था की जाए तथा हमले में मृतकों व घायलों के परिवारों को उचित धनराशि मुआवजे के रूप में प्रदान की जाये. तथा यात्रा पूर्ण रूप से सुरक्षित रूप में चल सके, इस हेतु सभी उचित प्रबन्ध किये जायें.
मांगेराम गर्ग की अध्यक्षता में आयोजित इस संयुक्त बैठक में शोक प्रस्ताव पास किया गया. बैठक में राष्ट्रीय संगठन मन्त्री सुनील शर्मा, महामन्त्री एडवोकेट नरेन्द्र बिन्दल, प्रचार मन्त्री हितेन्द्र संगल, कोषाध्यक्ष प्रदीप गुप्ता तथा दिल्ली प्रांत के अध्यक्ष प्रमोद अग्रवाल, महामन्त्री ओम प्रकाश सराफ, ओम प्रकाश गुप्ता व कोषाध्यक्ष ओमप्रकाश गोयनका सहित प्रांत के मन्त्री व सदस्य उपस्थित थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here