Home State News हादसों और मौतों की राजनीति से बाज आए विपक्ष- शांत प्रकाश जाटव

हादसों और मौतों की राजनीति से बाज आए विपक्ष- शांत प्रकाश जाटव

92
0
SHARE

नई दिल्ली. वरिष्ठ भाजपा नेता शांत प्रकाश जाटव ने विपक्षी राजनैतिक दलों पर हादसों और मौतों पर घृणित राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा है, कि इस नकारात्मक राजनीति से विपक्ष अपनी बची-खुची साख भी खो रहा है. जाटव ने कहा कि गोरखपुर में बीआरडी हॉस्पीटल तथा खतौली में रेल दुर्घटना पर जिस तरह से विपक्ष ओछी राजनीति कर रहा है, वह दुखद है. उन्होंने कहा कि किसी भी दुर्घटना की बात हो, सरकार अपनी जिम्मेदारी से किसी तरह से भाग नहीं रही है, फिर चाहे वह गोरखपुर हादसे की बात हो या फिर खतौली में हुए रेल हादसे की बात. गंगा साफ करने को 2033 करोड़ रुपये की परियोजनाओं को मंजूरी
उन्होंने कहा कि गोरखपुर के मेडिकल कॉलेज में हुए हादसे के बाद योगी सरकार ने दुर्घटना के जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई की है. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार की प्राथमिकता में व्यवस्था सुधार है, जबकि विपक्ष अपनी भूमिका अब भी उतनी ही नकारात्मक निभा रहा है, जितना वह सत्ता चलाते वक्त था. जाटव ने कहा कि हमारी सरकार ने सुनिश्चित किया है कि सरकारी हॉस्पीटल में काम करने वाले डॉक्टर निजी तौर पर प्रैक्टिस ना कर सकें, क्या इससे पहले की सरकारें ऐसा नहीं कर सकती थीं! उन्होंने कहा कि हेल्थ सेक्टर सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल है, लेकिन पिछली सरकार की कारगुजारियों के बुरे परिणामों से भी मौजूदा सरकार को दो-चार होना पड रहा है. उन्होंने कहा कि रेलवे के भी मॉडर्नाइजेशन के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है, लेकिन लंबे वक्त से लंबित पड़े सुधारों के चलते इनकी गति अभी धीमी दिखाई पड़ रही है.
जाटव ने कहा कि पिछली सरकारों के गलत निर्णयों और भ्रष्टाचार के चलते एडमिनिस्ट्रेशन के हालात बेहद खराब हंै, जिसके कारण पूरी व्यवस्था चरमरा चुकी है, लेकिन भाजपा की सरकारें इन सभी अव्यवस्थाओं को सुधारने के लिए प्रतिबद्ध हैं और निश्चित ही भविष्य में सुखद परिणाम देखने को मिलेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here