Home Articles त्रिवेणी सेवा मिशन ने दी पंडित दीनदयाल उपाध्याय की गाथा की संगीतमय...

त्रिवेणी सेवा मिशन ने दी पंडित दीनदयाल उपाध्याय की गाथा की संगीतमय प्रस्तुति

73
0
SHARE
Triveni MIssion Ajay Bhai

पंडित दीनदयाल उपाध्याय द्वारा मानवता को दिया अन्त्योदय का सिद्धांत ही किसी भी समाज के पूर्ण विकास का मूल मंत्र है- अजय भाई


श्याम जाजू ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय शुचिता एवं पारदर्शिता के प्रतीक थे और यही हमारा शासन सिद्धांत है. उन्होंने मुगल सराय स्टेशन का नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर किये जाने के केन्द्र सरकार के निर्णय की सराहना की और कहा कि यह देरी से लिया हुआ पर पूर्णत: उचित निर्णय है.


नई दिल्ली. 05 अगस्त. भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्याम जाजू, दिल्ली भाजपा के संगठन महामंत्री सिद्धार्थन सहित बड़ी संख्या में प्रदेश पदाधिकारी त्रिवेणी सेवा मिशन द्वारा नई दिल्ली के सत्य सांर्इं आॅडिटोरियम में आयोजित पंडित दीनदयाल उपाध्याय की गाथा के संगीतमय प्रस्तुतिकरण कार्यक्रम में सम्मिलित हुए. दिल्ली भाजपा की पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्मशती समिति के अध्यक्ष मूलचंद चावला, विक्रम बिधूड़ी, अनिल शर्मा, श्रीमती सुमित्रा दहिया की मौजूदगी तथा दिल्ली भाजपा के मंत्री संजीव शर्मा के संयोजन में आयोजित इस कार्यक्रम में कथावाचक अजय भाई ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जीवन के संस्मरणों पर आधारित गाथा की संगीतमय प्रस्तुति की.  पहली ग्रामीण अजय भाई ने अपने अनूठे अंदाज में पंडित दीनदयाल जी द्वारा रचित अन्त्योदय के सिद्धांत की प्रसंगिकता पर प्रकाश डालते हुए इसे मानवता के लिए एक अनूठी भेंट बताया और कहा कि किसी भी समाज के पूर्ण विकास के लिए अन्त्योदय ही मूल मंत्र है.
इस अवसर पर बोलते हुए श्याम जाजू ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय शुचिता एवं पारदर्शिता के प्रतीक थे और यही हमारा शासन सिद्धांत है. उन्होंने मुगल सराय स्टेशन का नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर किये जाने के केन्द्र सरकार के निर्णय की सराहना की और कहा कि यह देरी से लिया हुआ पर पूर्णत: उचित निर्णय है.
संगठन महामंत्री सिद्धार्थन ने कहा कि वर्तमान भाजपा की केन्द्र सरकार, पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अन्त्योदय के सिद्धांत से प्रेरित होकर कार्य कर रही है. भाजपा के कार्यकर्ता ही समरसता के भाव से कार्य करते हैं और दिल्ली के तीनों नगर निगम शीघ्र ही पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अन्त्योदय सिद्धांत के आधार पर काम करते हुए समाज के अंतिम व्यक्ति तक निगम सेवाओं का लाभ पहुंचायेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here